गैस का बनना आज के समय मे लगभग प्रत्येक व्यक्ति को होती है । जिनका हाज़मा अच्छा है उन्हें भले ही न होती हो। गैस बनने का मुख्य कारण यही है की हम जो भी खाते है उनका न पच पाना। gas problem in stomach  in hindi पेट मे गैस का बनना पाचन प्रकिया का एक स्वाभाविक हिस्सा है। इसका मुख्य लक्षण पेट फूलना होता है। ज़्यादातर लोग पूरे दिन में कई बार पेट की गैस निकल देते हैं| हालाँकि ये एक सामान्य बात है, लेकिन अगर पेट में गैस हद से ज़्यादा बढ़ जाती है जिसे इस पर आपको ज़रूर ध्यान देना चाहिए।
 gas problems in stomach  in hindi
 gas problem in stomach  in hindi

पेट में गैस तब बनती है जब पेट में बैक्टेरिया उन काबोहायड्रेट को उत्तेजित कर देते हैं जो छोटी आंत में ठीक से पच न पाए हों। आमतौर से यह ज़्यादा फाइबर  युक्त आहार खाने से होता है, जैसे फल,सब्जियाँ, साबुत अनाज और दालें आदि। फाइबर हमारे शरीर के लिए फायदेमंद है लेकिन ज्यादा मात्रा में बिलकुल नहीं खाना चाहिए| गैस बनने के अन्य कारण हैं शराब पीना, ढंग से खाने को न चबाना, मसालेदार खाना या अन्य गैस बनाने वाले खाद्य पदार्थ खाना। ज़्यादा तनाव, कुछ प्रकार के संक्रमण, पाचन से सम्बंधित समस्या, खाते समय हवा का भी साथ में जाना, कब्ज आदि की वजह से भी गैस बन जाती है।।

लक्षण:- पेट में गैस की समस्या होने पर आमतौर पर यह लक्षण दिखते  हैं- 

 1. भूख न लगना |
2. बदबूदार साँसे आना और पेट में सूजन रहना |
3. उलटी, बदहज़मी, दस्त होना  |
4. पेट फूलना

उपाय:-
 gas problems in stomach  in hindi

दोस्तों पेट मे गैस बनना एक जटिल समस्या है  और  यह अत्यधिक  हानिकारक होती  हैं तो आइये कुछ लाभकारी घरेलू नुस्खों के बारे में जाने  गैस की समस्या के लिए रात्रि में एक चम्मच सौप व आधा चम्मच जीरा को एक ग्लास पानी मे मिला के 5 मिनट तक गर्म करें और उस पानी को रात भर के लिए छोड़ दे और फिर सुबह खाली पेट उस पानी को पी ले  ऐसा यदि आप 7 दिनों तक करते हैं तो आपको निश्चित ही लाभ मिलेगा। आइये कुछ और नुस्खों के बारे में जाने :-

पानी:-
गुनगुना पानी पीने से न सिर्फ पाचन प्रकिया ठीक रहती है बल्कि गैस भी नहीं बनती।गैस की समस्या अधिक हो तो गर्म पानी के साथ अज्वाइन या जीरा खाने से तुरंत आराम मिलता है। खाना खाने के बाद गुनगुना पानी पीना चाहिए।

सौंफ:-
सौंफ मुांह का स्वाद तो बढाती ही है। साथ ही साथ ही  इसके सेवन से गैस्ट्रिक व एसिड रिफ्लक्स जैसी समस्याओ को दूर करने में मदद मिलती है। खाना खाने के बाद सौंफ का सेवन करना चाहिए। इससे  पेट की परेशाननयों से लाभ मिलता है।

अजवाइन:-
आधा चम्मच अजवाइन और आधा चम्मच नमक का सेवन गर्म पानी के साथ करने से गैस्ट्रिक सम्बंधित समस्यायें खत्म हो जा जाती हैं। भूख भी लगनी शुरू हो जाती है।

निम्बू-
 नीबू के रस में 1 चम्मच बेकिंग सोडा मिलाकर सुबह के टाइम खाली पेट पियें। आप दूध में काली मिर्च मिलाकर भी पी सकते हैं|

 इलाइची-

दिनभर में दो से तीन बार इलायची का सेवन पाचन किया में सहायक होती है और गैस की समस्या नहीं होने देता|

 पुदीना- पुदीने की पत्तियों को उबाल कर पीने से गैस से निजात मिलती है। आप पेट की सफाई के लिए एक सप्ताह में एक दिन उपवास भी रख सकते हैं।

पुदीने की चाय (peppermint tea):-
यदि आप गैस की समस्या से बहुत ज़्यादा परेशान हैं तो पुदीने की पत्तियों की चाय बनाकर पीने से राहत मिलती है। इससे आपको गैस की वजह से होने वाले पेट दर्द में भी आराम मिलता है। पुदीने की चाय बनाने के लिए पत्तियों को पानी में उबाल लें और उसमें टेस्ट के लिए 1 चम्मच शहद मिलाएं। बस इस चाय को पी लीजिये ।


अदरक (ginger):-
पेट में गैस की समस्या को दूर करने के लिए अदरक सबसे अच्छा घरेलू उपचार है। इसमें एंटीबक्टेरियल  और एंटीइंफ्लेमेटरी तत्व पाएँ जाते हैं जो पेट में होने वाली कब्ज और घेघा (esophagus) की समस्या को दूर करने में सहायक होते हैं।  अदरक का कई तरीकों से सेवन किया जा सकता है जैसे इसकी चाय बनाकर पी सकते हैं, या फिर इसे प्रत्यक्ष रूप से नमक के साथ चूसा जा सकता है। आप चाहें तो रोजाना सब्जियों में भी अदरक डाल सकते हैं। ।

दालचीनी ( cinnamon ):-
दालचीनी आपके पेट को हल्का करती है और गैस को दूर करने में भी मदद करती है। दालचीनी गैस्ट्रिक एसिड और पेप्सिन के स्राव को पेट की वाल्स (walls) से दूर करती है जिससे पेट में गैस नहीं बनती। दालचीनी का इस्तेमाल- एक कप गर्म दूध में एक या आधा चम्मच दालचीनी पाउडर को मिलाएं। इस मिश्रण को अच्छे से मिलाकर पी जाएँ। आप इसमें शहद भी मिल सकते हैं|

हींग ( hing ):-
 gas problems in stomach  in hindi
हींग को गैस के लिए बेहद प्रभावी उपाय माना जाता है। इसमें एांटीस्पास्मोडीक और एंटीफ्लाटुलेंट के गुण पाए जाते हैं जो अपच और गैस जैसी समस्याओ को कम करने में मदद करते हैं।

हींग का इस्तेमाल :- एक ग्लास गर्म पानी में एक चुटकी हींग को डाल दें और फिर पानी को अच्छे से चला लें। इस मिश्रण को फिर पी जाएँ।। पूरे दिन में इसका उपयोग दो या तीन बार ज़रूर करें।

दोस्तों यदि आपको मेरी यह पोस्ट  gas problem in stomach  in hindi अच्छा लगे तो कमेन्ट व शेयर जरुर करें| हेल्थ से जुड़ी और जानकारियां आप हमारे ब्लॉग में पढ़ सकते हैं|

8 Comments

please do not enter any spam link in the comment box

Post a Comment

please do not enter any spam link in the comment box

samsung galaxy m30s

StarX pvc20kg